GDP Ka Full Form Kya Hai

 GDP क्या है GDP Ka Full Form Kya Hai 2022. GDP word आपको बहुत जगहों पर सुनने के लिए मिलता है जैसे news channel और News papers me में लेकिन यह सवाल है कि ये GDP Ka Full Form Kya Hai औऱ किसी country का development  में इसका क्या योगदान होता हैं साथ ही ये भी जानते हैं के इसका इस्तेमाल क्यो क्या जाता है और कैसे किया जाता है।

GDP Ka Full Form Kya Hai


GDP किसी भी देश की Economy को measurement का एक पैमाना हैं जिसे यह समझा  जाता हैं कि किस देश मे development  किस गति से हो रहा हैं इसलिए किसी भी देश की GDP  का अच्छा होना उस देश की मजबूत economy को दर्शाता हैं।

 

जब भारत मे हर three month बाद GDP की Calculation की जाती हैं तो news channel पर बहुत debate की जाती हैं क्योंकि जीडीपी किसी भी country की development किस हिसाब से हो रही हैं जिसका estimate बताती हैं के जीडीपी ऊपर जा रहा या निचे जा रहाहै अब लोगो को ये  सब समझ में नहीं आता आखिर GDP किसे कहते हैं और ये कैसे काम करता है.

 

इसलिए आज के इस article में हम यह जानेंगे कि GDP Ka Full Form Kya Hai और जीडीपी कितने types की होती है और साथ ही gdp को कैसे मापा जाता है इत्यादि तो अगर आप जीडीपी के बारे में पूरी जानकारी प्राप्त करना चाहते है तो आप इस लेख को एक बार पूरा जरूर पढ़ें ताके आप को पूरी जानकारी मिल सके.

GDP कब शुरू हुआ और कैसे शुरू हुआ 

GDP Ka Full Form Kya Hai जानने के बाद अब हम बात करते  हैं  के साल 1930 में second World War खत्म हो चुका था और पूरी दुनिया financial crisis से जूझ रही थी और लगभग 10 साल के बाद पूरी दुनिया इस financial crisis से बाहर निकल सकी उसके पश्चात देश के Economic Development का पता लगाने के लिए ऐसे तरीके के बारे में खोज शुरू हुई जिसे देश के Economic Development का पता लगा जा सके।

 

चूँकि उस समय देश की Economic Development  को measure करने का कोई सही पैमाना नहीं था इसलिए उस समय देश की banking companies आगे आयी जिसमें Financial Institute और बैंक शामिल थे उन्होंने देश को भरोसा दिलाया कि वह देश के Economic Development का हिसाब रखेगी और उसे देश के सामने show करेगी।

 

इस तरह देश के Economic Development को सही करने का काम Banks को दे दी गयी. लेक़िन देश के Economic Development के मापन का कोई सही पैमाना नहीं होने के वजह से यह system भी देश के आर्थिक विकास में सही सुधर नहीं ला पायी और इस system में बहुत सारी कमिया रह गयी जिसे सही करने की ज़रूरत थी.

 

फिऱ सन 1935-44 में America में GDP शब्द का इस्तेमाल सबसे पहले किया गया जिसे अमेरिका के Economist Simon ने अपने देश अमेरिका से परिचय कराया जिसको अमेरिकी कांग्रेस में पेश किया गया और पहली बार GDP का विचार सामने लाया गया।


1944 में ब्रेटन बुड्स सम्मेलन के बाद World Bank और International Monetary Fund के जरिया Economy और इसकी सालाना तरक़्क़ी का पता लगाने के लिए GDP  इस्तेमाल किया जाने लगा जिसके बाद जीडीपी का हरज जगह चर्चा होने लगा और फिर देखते देखते देश के आर्थिक विकास को measure का पैमान GDP को बना दिया गया.

GDP Ka Full form Kya Hai

दोस्तों एक ख़ास बात ये है के हमें अपने भारत के बारे में जानकारी रखनी चाहिए जैसे हमारे भारत की कुल आबादी कितनी है, भारत में कुल कितने राज्य है. और हमें gdp के बारे में भी जानकारी ज़रूर रखनी चाहिए ताके मालूम हो सके के हमारे India की gdp growth कैसा जा रहा है. लेकिन उससे पहले आप को ये जानना ज़रूरी है के GDP क्या है GDP Ka Full Form Kya Hai ताके सही जानकारी आप को मिल सके.


GDP Ka Full form “Gross Domestic Product” होता है  जिसको हिंदी मे सकल घरेलू उत्पाद का नाम दिया गया है औऱ भारत देश में हर 3 महीने बाद GDP का  calculation क्या जाता  हैं जिसे देश की तरक़्क़ी का Analysis किया जाता है। दोस्तों अब शायद आप को मालूम हो गया होगा के GDP Ka Full Form Kya Hai.

जीडीपी क्या है पूरी जानकारी

GDP किसी भी देश के Economic Development की growth और को मापने का एक तरीक़ा है जिस के जरिया किसी देश की Economic Development दर औऱ तरक़्क़ी की रफ़्तार का जांचा जाता हैं यह एक बेसिक तरीका है जिसे देश के Economic Development को मापा जाता है मतलब अगर GDP बढ़ रही है तो इसका मतलब है कि देश का आर्थिक विकास भी आगे जा रही है.

 

विकिपीडिया के अनुसार gdp अर्थव्यवस्था के economic performance का एक basic माप हैं जिसमें एक साल में एक नेशन की सीमा के अंदर सभी Final goods और सेवाओं का बाज़ार value होता है।

 

सरल शब्दों में एक साल के अंदर एक देश मे इसकी सीमा के अंदर जितनी सामानो या सेवाओं का production किया जाता हैं उसका कुल value ही gdp या सकल घरेलू production कहलाता है हम आपको एक उदाहरण के तौर पर बताते हैं

 

मान लीजिए 2022 में हमारे भारत में कुल मिलाकर 20 बोरया चावल की पैदावारी हुई और एक बोरी चावल की कीमत 500 रुपये है तो 2022 में हमारे देश की gdp 20 ×500= 10000 होगी। अब अगर आप लोग यह कहेंगे कि ऐसा  भी तो हो सकता है कि इन 20  बोरी चावलों में से 10 बोरी सरकार उगाये, 5 बोरी कोई private company उगाये और 5  बोरी कोई विदेशी कंपनी उगाये। तो ऐसे में हम हिसाब किताब कैसे करेंगे और किसको जोड़ेंगे और किसको छोड़ेंगे।

 

तो हमे इस से कोई सरो कार नहीं के उत्पादन कैसे और किया है  जैसा के हम ने  बताया के हमारे देश के अंदर चाहे वो गवर्नमेंट ने किया, चाहे private कंपनी ने या फिर किसी विदेशी कंपनी ने उसका कुुल वैल्यू हमारे देश की जीडीपी(GDP) कहलाता है।

GDP FORMULA क्या हैं औऱ कैसे मापा जाता है।

जीडीपी को सही से समझने और मापने के लिए एक formula तैयार किया गया जिसके use से आप देश की economy development को अच्छी तरह समझ सकते हैं जो इस प्रकार है।

GDP = C + I + G+ (X – M)

C: Consumption(उपभोग) 

यहाँ C का अर्थ  होता है Consumption जिसको हिंदी भाषा में उपभोग भी कहते हैं यानी कि देश के लोगों के Personal household expenditure जैसे खाना, rent, medical expenses और इस  टाइप  के घरेलु  expenditure को इसमें  Include कर दिया जाता है

I: Investment(कुल निवेश)

यहाँ I का अर्थ हैं Investment जिसे हिंदी में कुल निवेश भी कहा जाता है देश के घरेलू सीमाओं के अंदर सामान और services पर सभी Institutions के ज़रिये क्या गया Total expenditure को ही Total expenditure total investment कहा जाता है।

G: Government Spending(सरकारी खर्च)

यहाँ G का अर्थ हैं Government Spending जिसको हिंदी भाषा में Government expenditure भी कहा जाता है जिसमें government के ज़रिए किये गए सभी तरह के खर्च शामिल होते है जैसे – government के जरिए किया गया Investment, सभी तरह के सरकारी employees का वेतन, हथियार वगेरा खरीदना इत्यादि।

X: Export(निर्यात)

यहाँ X का अर्थ हैं Export जिसको हिंदी भाषा में निर्यात भी कहा जाता है इसमें अपने देश मे तैयार की चीज़ों को किसी दूसरे देश में भेजना और सामान export करना जिसे जीडीपी(GDP) में शामिल किया जाता है।

M: Import(आयात)

यहाँ M का अर्थ हैं Import हिंदी भाषा में आयात कहा जाता है आयात से हम उन goods and services को ऱखते है जिसका production हमारे देश में नहीं हो औऱ जीडीपी calculate करते वक़्त हम आयात को घटा देते है।

GDP Formula And Calculate Formula

जीडीपी(GDP)=उपभोग(Consumption)+कुलनिवेश(Investment)+सरकारीखर्च(Gover. Spending)+{निर्यात(Export)-आयात(Import)}

 

GDP Ka Full Form Kya Hai

जीडीपी के प्रकार- Type Of GDP

1. वास्तविक जीडीपी(GDP)

Actual जीडीपी में एक आधार साल में कीमतों के मूल्य fix रखकर जीडीपी की Calculation क्या जाता हैं। इस जीडीपी में मूल्य के अंदर कोई तबदीली नही किया जाता। actual सकल Household products को स्थिर मूल्य पर सकल Household products की Calculation के तौर पर भी जानी जाती है।

2. नाममात्र जीडीपी(GDP)

Nominal जीडीपी उस जीडीपी को कहा जाता है  जिसमे Present Market की कीमतों के आधार पर जीडीपी की calculation क्या जाता है ना कि Central statistical organization के ज़रिये तय की गई Determined कीमत के आधार पर अगर बात करे Economic Development की तो Nominal जीडीपी की तुलना में actual जीडीपी देश के आर्थिक विकास को सही शो करती है।

दुनिया के टॉप 5 जीडीपी देश की लिस्ट

2022 भारत की इतनी तरक़्क़ी की के UK और France को  से भी आगे निकल गया और 7वी नंबर से 5वी नंबर पर आ गया कर लिया है और भारत में रहने वालों के लिए बहुत ख़ुशी की बात है अब हम आप को बताते हैं के है कि दुन्या में सब से ज्यादा जीडीपी वाला देश कौन सा है और टॉप पर कौन है।

1. यूनाइटेड स्टेट्स(United States)

अमेरिकी Economy 1981 से ही जीडीपी के मामले में दुनिया में पहले स्थान पर बनी हुई है औऱ आज दुनिया में सब से अर्थव्यवस्था हैं जिसका अंदाज़ा ऐसे लगा सकते है कि दुनिया की अर्थव्यवस्था में तक़रीबन एक चौथाई हिस्सा सिर्फ और शरीफ अमेरिका की जीडीपी का है। 2018 में अमेरिका की GDP 20.58 ट्रिलियन डॉलर थी औऱ 2022 में अमेरिका की GDP 22.32 ट्रिलियन डॉलर तक जाने का अंदाज़ा लगाया गया है।

2. चीन(China)

आप को मालूम होगा के 1980 में चीन दुनिया की 7वी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था थी लेकिन आज प्रेजेंट में चीन दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था हैं जिसने बहुत ही तीजी से तर्रकी की है और दिन बा दिन आगे बढ़ता जा रहा है. 2018 के अनुसार चीन की जीडीपी 13.37 ट्रिलियन डॉलर थीं।

3. जापान(Japan)

जापान दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था हैं जो 5 ट्रिलियन डॉलर का आंकड़ा पार कर चुकी है जापान जिस  आर्थिक  इस्तिथि  से  झुज कर  बहार  आया है और जितनी जल्दी तरक़्क़ी  किया है वो दुन्या के लिए मिसाल है. जापान भी Natural resources का धनी देश है और इसकी gdp का तो कहना ही नहीं है.इसकी जीडीपी में सेवा क्षेत्र का 70.9% उद्योग क्षेत्र का 29.7% और agricultural sector का 1% योगदान है। और शायद आप जानते होंगे के 2019 में जापान की जीडीपी 5.15 ट्रिलियन डॉलर तक पहुँच चुकी थीं।

4. जर्मनी(Germany)

Germany अर्थव्यवस्था के मामले में दुनिया में चौथे नंबर पर आता हैं और Europe में यह सबसे शक्तिशाली economic है। जर्मनी स्टील, कोयला, लोहा, मशीनरी टूल्स, रसायन, ऑटोमोबाइल्स के उत्पादन में बहुत आगे है। 2019 के अनुसार इसकी जीडीपी 3.86 ट्रिलियन डॉलर थीं।

5. भारत(India)

भारत की economy  दुन्या की पांचवी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था है और प्रधानमंत्री ने हिंदुस्तान की जीडीपी को 5 ट्रिलियन तक ले के जाने की बात कही है Agriculture, Milk उत्पादन, पशुपालन इंडिया में अधिक मात्रा में होता है साथ ही यह कपड़ा, रसायन, और इस्पात खनन के सबसे बड़े उत्पादक देशों में से एक है भारत जीडीपी(GDP) के लिए 16.8% Agriculture पर और 28.9 % उद्योग पर निर्भर है 2019 में भारत की जीडीपी 2.94 ट्रिलियन डॉलर थीं।

GDP और GNP में अंतर

जब हम जीडीपी(GDP) के बारे में बात करते है तो एक औऱ शब्द जीएनपी(GNP) सुने को मिलता है जिसे चलते बहुत सारे लोगो जीडीपी और जीएनपी को लेकर confuse हो जाते है।

 

जीडीपी सकल घरेलू उत्पाद होता है जबकी जीएनपी सकल राष्ट्रीय उत्पाद होता है। आसान भाषा में कहे तो जीडीपी को इससे मतलब नही है कि production कौन कर रहा है क्योंकि जीडीपी तो बस यह देखता है कि production देश के अंदर हो रहा है या नही लेकिन जीएनपी यह conform करता है कि production देश के Citizen द्वारा ही हो।

 

यह हमनें आप को इसलिए बता दिया है क्योंकि gnp को बगैर जाने जीडीपी के बारे में हमारी मालूमात अधूरी रह जाती है इसलिए हम नें आसान भाषा में जीडीपी और जीएनपी के फ़र्क़ को साफ़ साफ़ बताने और समझाने की कोशिश की है.

 

तो दोस्तों उम्मीद है की अब आप लोगो को GDP Ka Full Form Kya Hai और GDP Ka Full Form व टॉप जीडीपी देश कौन है के बारे सही जानकारी मिली होगी साथ ही साथ जीएनपी के बारे में हम ने काफी अच्छी तरह आप को बताया है.

 

इसलिए अगर आपको हमारा यह article पसंद आता है तो इसे अपने देश के सभी लोगो  को शेयर करें ताकी वह भी अपने देश की जीडीपी  को अच्छी तरह समझ  सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published.